8 months ago

चाचा Shivpal Yadav से दूरी क्यों बनाने लगे हैं Akhilesh Yadav, क्या है बड़ी वजह ? | वनइंडिया हिंदी

Mulayam Singh Yadav's brother Shivpal Yadav was also a participant in the struggles to establish the Samajwadi Party. The party which he had watered a lot together with Netaji .. and kept rubbing his heels for more than 2 decades to strengthen the party in the state. When that Shivpal fell apart in 2017, he was seen very sad. To keep his political existence alive, he also formed his own separate party. But even after that, he could not get rid of his attachment with the SP.

समाजवादी पार्टी जिसे स्थापित करने के संघर्षों में मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव भी भागीदार रहे। जिस पार्टी को उन्होंने नेताजी के साथ मिल कर मिल कर खूब सींचा था.. और जिस पार्टी को प्रदेश में मजबूती दिलाने में 2 दशक से ज़्यादा वक्त तक एड़ियां रगड़ते रहे। वो शिवपाल 2017 में जब अलग-थलग पड़े तो खूब दुखी दिखाई दिये थे। अपना राजनीतिक वजूद जिंदा रखने के लिये उन्होंने अपनी अलग पार्टी का भी गठन किया। लेकिन उसके बाद भी वे सपा से अपना मोह नहीं छुड़ा पाए थे।

#AkhileshShivpal #SpPsp #oneindiahindi

akhilesh yadav and Shivpal Yadav, shivpal yadav, bjp join, Shivpal Yadav, akhilesh yadav, future political, challenges sp, Pragtisheel samajwadi party, SP, mulayam singh yadav, अखिलेश यादव और शिवपाल यादव, शिवपाल यादव, बीजेपी में शामिल, शिवपाल यादव, अखिलेश यादव, भविष्य की राजनीतिक, सपा की चुनौतियां, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी, सपा, मुलायम सिंह यादव, oneindia hindi, oneindia hindi news, वनइंडिया हिंदी, वनइंडिया हिंदी न्यूज़

Browse more videos

Browse more videos